wc_1.jpg

बेहद खास है आज का दिन, जब भारत ने कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराकर 2011 WC के फाइनल में प्रवेश किया, जानिए दिलचस्प कहानी

RewaRiyasat.Com
Suyash Dubey
30 Mar 2021

30 मार्च, 2011 का दिन हर क्रिकेट प्रेमी के लिए खास है। क्यूकी यह वही दिन है जब भारत ने 50 ओवर के विश्व कप ( World Cup 2011 ) के फाइनल में प्रवेश करने के लिए कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान ( Pakistan )को हराया था। भारत ने मोहाली में पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन आईएस बिंद्रा स्टेडियम में सेमीफाइनल मुकाबले में 29 रन से हराकर विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ अपनी 100 प्रतिशत जीत की दर को बनाए रखा। 

मास्टर ब्लास्टर सचिन का कमाल 

पाकिस्तान के खिलाफ मैच में, भारत ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का विकल्प चुना। सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर ने  48 रन जोड़े। दोनों की साझेदारी सहवाग को पारी के तीसरे ओवर में पाकिस्तान के उमर गुल के जोरदार 21 रन लिए । हालांकि, पाकिस्तान को आखिरकार पारी के छठे ओवर में सफलता मिली क्योंकि वहाब रियाज ने सहवाग (25) को वापस पवेलियन भेज दिया।

Amazon Best Deals : Holi Offers 

हालांकि, तेंदुलकर ने भारत के लिए प्रभार बनाए रखा और स्कोरबोर्ड को मेजबानों के लिए आगे बढ़ाया। पाकिस्तान ने तेंदुलकर को कम से कम चार बार आउट करने की कोशिश की लेकिन मास्टर ब्लास्टर आउट  हुए । 37 वें ओवर में पाकिस्तान ने आखिरकार तेंदुलकर (85) को आउट किया ,सईद अजमल ने मास्टर ब्लास्टर को वापस पवेलियन भेज दिया। अंत में भारत को बल्लेबाजी में गिरावट का सामना करना पड़ा, लेकिन सुरेश रैना के 36 रनों के कैमियो ने भारत को कुल 260 तक पहुंचाया।

Amazon Deal : Upto 40% off on Mobile Phones

भारतीय गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाया पकिस्तान 

261 रनों का पीछा करते हुए, पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज कामरान अकमल और मोहम्मद हफीज ने पहले  44 रन जोड़े, लेकिन जहीर खान ने भारत को पहली सफलता दिलाई। नौवें ओवर में भारत ने अकमल (19) को पवेलियन भेजा। अकमल के आउट होने के बाद, पाकिस्तान नियमित अंतराल पर विकेट खोता रहा और कभी भी मैच जीतने का मौका नहीं था। सभी पांच भारतीय गेंदबाजों (जहीर, आशीष नेहरा, मुनाफ पटेल, हरभजन सिंह, और युवराज सिंह) ने 231 रन पर पाकिस्तान को दो विकेट दिलाकर भारतीय टीम को 29 रन से जीत दिलाई। 

हर बार वर्ल्ड कप सेमि फाइनल में हारा पाकिस्तान 

एमएस धोनी की अगुवाई वाली टीम ने आखिरकार अपना दूसरा 50 ओवर का खिताब अपने नाम किया और फाइनल में श्रीलंका को हरा दिया।

मेन इन ब्लू ने भी विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ अपनी नाबाद लकीर खींच रखी है क्योंकि 2015 और 2019 के 50 ओवर के विश्व कप में उन्हें हराया था। भारत 2014 और 2016 के टी 20 विश्व कप में भी कट्टर प्रतिद्वंद्वी को पछाड़ने में कामयाब रहा।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER