vindhyacoronabulletin/mpeb .png

Rewa : बिजली कंपनी की बदहाल व्यवस्था, कोरोना महामारी में दिन रात किया और वेतन के पड़े लाले

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
11 Jun 2021

रीवा। बिजली कंपनी की अव्यवस्था और बदहाली का दंश जिले भर के लोग तो झेल ही रहे हैं, साथ ही कंपनी में काम कर रहे प्राइवेट कर्मचारी भी काफी परेशान है। आपको बता दें कि बीते दो माह देश भर में कोरोना महामारी का दौर चल रहा था जिससे रीवा जिले लोग भी चपेट में थे और इस दौरान कोई घर से बाहर नहीं निकलता था। लेकिन यही बिजली के दिन रात अपनी जिंदगी दांव पर लगाए हुए थे। इन कर्मचारियों को कोरोना काल में भी वेतन नहीं दिया गया, इससे बदहाल स्थिति और क्या हो सकती है। इन कर्मचारियों को दो माह से वेतन के लाले पड़े हुए हैं।

कंपनी के अधिकारी जो मोटी रकम पाते हैं शायद उन्हें इन छोटे कर्मचारियों की समस्याओं का कोई एहसास नहीं है तभी तो दो माह से बेचारे कर्मचारी वेतन के लिये परेशान है। जबकि क्षेत्र की व्यवस्था में दिन रात ये प्राइवेट कर्मचारी लगे रहते हैं। मनगवां कार्यालय अंतर्गत काम में लगे इन कर्मचारियों ने बताया है कि दिन रात काम के बाद भी दो माह से वेतन नहीं मिल पाया है। कंपनी के अधिकारियों से वेतन की मांग की गई लेकिन अनसुना कर दिया जाता है।

दिन रात काम के बाद भी ये कर्मचारी दो वक्त की रोटी के लिये परेशान हैं। अगर कर्मचारी वेतन की मांग करते हैं तो इन्हें नौकरी से निकालने की ामकी दी जाती है। इन हालातों में कर्मचारी काफी परेशान हो चुके हैं, उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि आखिर वे क्या करें। वरिष्ठ अािधकारियों का ध्यान आकृष्ठ कराया गया है।

कैसे होगा बिजली की बदहाल व्यवस्था में सुधार

बिजली कंपनी की जिस तरह से व्यवस्था चल रही है उससे बदहाली से जूझ रही आम जनता को आने वाले बरसात के दिनों में कैसे निजात मिल पायेगी। गांवों में बिजली की व्यवस्था बेपटरी हो चुकी है। बिजली के खंभे जमीन पर गिर रहे हैं, आये दिन घटनाएं हो रही हैं और मवेशी करंट में फंसकर असमय मौत के गाल में समा रहे हैं।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER