2021/Delhi Fear of lockdown haunting migrants, migration of tax to their city and village.jpg

Delhi : प्रवासियों को सता रहा लॉकडाउन का डर, अपने शहर व गांव के लिये कर रहे पलायन

RewaRiyasat.Com
Viresh Singh Baghel
08 Apr 2021

दिल्ली(Delhi news) देश एक बार फिर संकट के दौर पर चल पड़ा है। जंहा दूर-दराज रह रहे लोगों को कोरोना सक्रमण की चिंता सता रही है तो वही लॉकडाउन का डर भी है। 

ज्ञात हो कि देश में एक बार फिर कोरोना वायरस उसी दौर में जाता दिख रहा है, जहां पिछले साल था. एक तरफ कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं तो दूसरी तरफ शहरों में फिर से लॉकडाउन लगाने के निर्णय लेने लगातार चर्चाए हो रही है।

घर वापसी कर रहे प्रवासी मजदूर

कोरोना सक्रमण के बढ़ते केस व लॉकडाउन की आशंका के बीच प्रवासी मज़दूरों के अपने घर वापस जाने की खबरें भी आ रही हैं। लगातार बढ़ रही सख्तियों के बीच लॉकडाउन की आहट सिर पर है और दिल्ली, पुणे समेत देश के सभी इलाकों से प्रवासी मजदूर अपने घर वापस लौटने लगे हैं।

रेल्वे स्टेशनों में बढ़ रही भीड़

रेल्वे स्टेशनों में इन दिनों बड़ी संख्या में प्रवासी मज़दूर घर जाते हुए देखे जा रहे है। बिहार के कुछ मज़दूरों का कहना है कि पिछली बार लॉकडाउन में वो फंसे रह गए थे, ऐसे मे अब फिर से ऐसी स्थिति बनती है तो वो इस बार फंसना नहीं चाहते है, इसलिए पहले ही अपने घर जा रहे हैं।

कोरोना संकट के कारण कई राज्यों में जंहा अलग-अलग समय पर अलग-अलग तरह की पाबंदिया लगाई जा रही है। फिर भी कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में प्रवासी मज़दूरों के बीच फिर से टोटल लॉकडाउन का डर सता रहा है। 

महानगरों से हो रहा पलायन

दिल्ली, महाराष्ट्र, पुणे सहित अन्य राज्यों में भी कुछ ऐसा ही नज़ारा देखने को मिल रहा है। जहां प्रवासी मज़दूर बड़ी संख्या में अपने शहरों, गांवों की तरफ लौट रहे हैं। पुणे के रेलवे स्टेशन पर भारी भीड़ पहुच रही है। रेलवे की ओर से कहा गया है कि हम यहां नियमों का पालन कर रहे हैं, अधिक संख्या है लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के पैमाने पर खरा उतरा जा रहा है। 

बेकाबू हो रहा कोरोना

गौरतलब है कि दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, यूपी जैसे कई राज्यों ने अपने शहरों में नाइट कर्फ्यू तो लागू कर दिया है. महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश में तो लॉकडाउन का भी निर्णय ले लिया गया है, हांलाकि एमपी में अभी 60 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है। केस इसी तरह से बढ़ते रहे तो आगे और निणर्य लिये जा सकते है।

इस वक्त देश में कोरोना वायरस की रफ्तार बेकाबू हो चली है। गुरुवार को भी देश में करीब सवा लाख कोरोना के केस सामने आए. बढ़ते मामलों के कारण कई राज्यों ने कड़े निर्णय लिये है।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER